तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार, Oily Skin Tips in Hindi

तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार, Oily Skin Tips in Hindi

तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार, Oily Skin Tips in Hindi
तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार, Oily Skin Tips in Hindi

अपनी त्वचा को स्वस्थ और साफ बनाएं ।-


त्वचा,(Skin )  शरीर की सुंदरता में सबसे महत्वपूर्ण स्थान  है। लेकिन मौसम और पर्यावरण का(impact) प्रभाव इसे सबसे अधिक प्रभावित करता है। अगर आप कुछ प्राकृतिक टिप्स(natural tips) अपनाते हैं तो त्वचा (Skin Beauty )की सुंदरता को बरकरार रखा जा सकता है।

त्वचा (Skin )शरीर का सुरक्षात्मक अंग है। बढ़ते बालों को पोषण देने के साथ-साथ अंदर की महक को भी बाहर निकालते हैं क्योंकि पसीना नाखूनों को साफ(clean) करने में मदद..  करता है.।

प्राकृतिक (natural)सामग्रियों से निर्मित, यह शरीर हवा, पानी और सूर्य के प्रकाश के संयोजन( ) से खिलता है। इस संतुलन के संतुलन पर, शरीर को धुंधला महसूस करना शुरू हो जाता है, पौष्टिक तत्वों (Nutritious elements)की कमी का शरीर में बढ़ने वाले रोग के शरीर पर सीधा प्रभाव पड़ता है। लेकिन अगर हम त्वचा(Skin ) की सही देखभाल करें तो बदलाव की यह गति धीमी हो सकती है।

General skin tips, तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार

सामान्य त्वचा को सबसे अच्छा(best) माना जाता है। त्वचा की सुरक्षा और कमजोरी बनाए रखने के लिए नहाने से पहले(Carrot or  mint) गाजर का रस या पुदीने की पत्तियों का रस त्वचा() पर लगाएं। 10 मिनट के बाद, डेल लेट | इससे चेहरे की त्वचा निखार (Cleanliness)लंबे समय तक बनी रहेगी।

तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार

रूखी त्वचा रूखी और धारीदार प्रतीत होती है। इसे बचाने के लिए, हफ्ते में एक बार बादाम के पेस्ट या जई के आटे से त्वचा को साफ करें। आंखों(Nearer Eye ) के आसपास की त्वचा की रक्षा के लिए पेस्ट को चिपकाएं। पोखर या घुंडी को बाद में निकालें। तरबूज( watermelon juice) के रस को चेहरे पर लगाएं, फिर 10-15 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें, इससे त्वचा का रंग निखरता है। भोजन में दूध(Milk ,curd) और दही की मात्रा बढ़ाएँ।



साफ , तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपाय

यह अधिक चमकती है। ऐसी(Skin ) त्वचा पर तैल (Oil)ज्यादा होता है। यदि आपकी तैलीय त्वचा है, तो दिन में तीन(३) बार चेहरे को साफ करें; मुल्तानी मिट्टी, जई का आटा और बादाम का पेस्ट तैलीय त्वचा का अच्छा उपयोग करते हैं। इनमें से किसी एक का उपयोग करें। खीरे के रस को चेहरे पर लगाएं और 10-15 मिनट बाद धो लें, इससे त्वचा में ताजगी आती है। इसके अलावा (Lemon juce )नींबू का रस भी लगाया जा सकता है।

तैलीय त्वचा को साफ करने के लिए, गेंदे के फूलों की पंखुड़ियों को लेकर उसे एक कप उबलते पानी में डुबोएं। 8-10 मिनट के बाद, जब पानी थोड़ा गर्म हो जाए, तो पंखुड़ियों को हटा दें और इसे पीसकर गूदा(pulp,) बना लें, और चहरे(Skin ,Face ) पर लगाये  इसे 6-7 मिनट के बाद सूखने पर ठंडे पानी से अच्छी तरह धो लें।



मिश्रित प्रकार की त्वचा के लिए घरेलू उपाय

मिश्रित प्रकार की त्वचा के (mixed type skin)इसकी सफाई थोड़ी मुश्किल है  चिपचिपे क्षेत्रों पर फेस पैक लगाएं और 15 मिनट बाद साफ करें।

त्वचा विकार(Skin disorders) त्वचा की समस्याओं और उनके उपचार को रोकते हैं

उनके स्टॉप-स्टॉप के लिए ताजे फल(Fresh fruits,) और कच्ची सब्जियां खाएं। घी, मसाले, लौकी, अचार न खाएं। चाय, कॉफी और बहुत सारी मिठाइयों (sweets)का सेवन कम करें। ऐसा खाना लें जो आसानी से पच जाए।
चीनी (sugar)के बजाय चने या शहद(honey) का सेवन करें।

त्वचा के विकार क्या हैं, तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार
1. झाई झाइयाँ घरलू उपचार

कैल्शियम और विटामिन( calcium,vitamin) की कमी से चेहरे पर खरोंच आती है। ताजे फल, हरी सब्जियां लेकर इन सामग्रियों की कमी को दूर करें। आंखों(Eye ) की थकान भी सूजन का कारण बनती है। इसलिए पूरी नींद लें। कच्चे नारियल और तुलसी( coconut,basil) के पत्तों को पीसकर तैयार लेप को ज़िप पर लगाएं। कुछ ही दिनों में लाभ दिखाई देने लगेगा।

संतरे के छिलके को 100 ग्राम छाया में सुखाकर पीस लें। इतनी ही मात्रा में बाजरे के आटे, 10 ग्राम दही और नींबू के रस को मिलाकर लगाने से भी यह दूर हो जाता है।

2. शुष्क त्वचा

सुबह-शाम एक गिलास गाजर का जूस पीने से त्वचा का रूखापन दूर होकर त्वचा कोमल और चिकनी बनती है। 1 चम्मच दही में 2 चम्मच ओट्स का आटा और 5 बूंदें शहद या जैतून(Honey or olive) का तेल डालें, इससे त्वचा में चमक आती है।

2 टेबलस्पून जई( flour) का आटा, 2 टेबलस्पून गुलाबजल(rose water), आधा कप दूध(Milk ) लें। पहले बेसन में दूध डालें और हल्की आंच पर गर्म करें। जब पेस्ट नरम हो जाए, तो इसमें गुलाब जल अच्छी तरह( mix) मिलाएं। पीसे हुए पेस्ट को चेहरे और गर्दन(face and neck) पर लगाएं और 20 मिनट के बाद पानी से धो लें। यह मास्क झुलसी हुई त्वचा को नया जीवन(new life ) देता है।

3.  त्वचा का काले दाग का 

हफ्ते में एक बार मुल्तानी मिट्टी का पैक लगाएं। गुलाबजल की मदद से 1 चम्मच शहतूत मुल्तानी मिट्टी की कुछ छोटी टुकड़े , आधा चम्मच टॉक दही , 1चम्मच  ग्लिसरीन और नींबू के रस(lemon juice) को मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट बनाएं। इस फेस पैक को आधे घंटे तक चेहरे(Face ) पर लगा रहने दें। १५-२० मिनट बाद पानी से धो लें।


4. त्वचा का रूखा होना

1 चम्मच नींबू का रस, आधा चम्मच गुलाब जल, आधा चम्मच ग्लिसरीन, 1 ताजे खीरे को बिना छीले लें। खीरे को बारीक काटकर पीस लें और छानकर रस निकाल लें। इस रस में बची हुई सभी सामग्री मिलाएं। इस तैयार घोल में साफ सूती चोकर को डुबोएं और इसे त्वचा पर लगाएं और 10-15 मिनट बाद धो लें।


Previous
Next Post »